Ads

1 / 3
Caption Text
2 / 3
Caption Two
3 / 3
Caption Three
3 / 3
Caption Three

Ballia : रहें सावधान, किसी और की जमीन अपनी बताकर ठगी कर रहे कुछ लोग

एसपी के पास पहुंचे शिकायतकर्ता
बलिया।
जिले में कुछ ऐसे ठगी करने वाले लोग है जो किसी और की जमीन को अपनी जमीन बताकर बकायदे रजिस्ट्री कर दे रहे है। जब जमीन लेने वाला व्यक्ति अपनी जमीन पर कब्जा लेने पहुंचता है तो पता चलता है कि वह जमीन जिसने रजिस्ट्री की है उसकी नहीं किसी और की है। रेलवे स्टेशन के पास स्टूडियो संचालक अमित कुमार ने दो लोगों के खिलाफ एसपी को पत्रक दिया है। उसने बताया है कि एक व्यक्ति उसके दुकान पर आया है और एक जमीन की चर्चा करने लगा। वह जमीन मेरे काम की थी। बकायदे उस जमीन की रजिस्ट्री भी हुई और नगवां निवासी एक व्यक्ति ने उस जमीन को रजिस्ट्री भी किया। अमित कुमार ने पत्रक के माध्यम से एसपी को जानकारी दी है कि दुबहड़ थाना क्षेत्र के नगवां निवासी व संवरूबांध निवासी दो व्यक्तियों ने झांसे

में लेकर जमीन लिखवाया और उसके एवज में पैसा भी लिया और रजिस्ट्री भी की। जमीन की बिक्री करने के लिये 14 लाख रूपये करार किया और 14 लाख रूपये में से छह लाख सवंरूबांध निवासी एक व्यक्ति ने लिया। आठ लाख रूपये बिक्री पत्र तहरीक करने से पहले इलाहाबाद बैंक शाखा बलिया के चेक से लिया गया। पैसा लेने के बाद जमीन बेचने वालों ने जमीन पर पीड़ित को कब्जा नहीं दिलवाया जिसको लेकर प्रार्थी दर-दर भटक रहा है और न्याया की गुहार लगा रहा है। प्रार्थी को झांसा देने वाले दो व्यक्ति बेखौफ घूम रहे है और पुलिस उन पर कोई कारवाई नहीं कर पा रही है और पीड़ित को न्याय नहीं दिला पा रही है।

इनसेट
16 बार एसपी कार्यालय और आठ बार दुबहड़ थाने का चक्कर लगा चुका है पीड़ित
बलिया। यदि पुलिस मन बना लें तो कोई कितना भी बड़ा ठगी करने वाला हो उसे पकड़ सकती है। लेकिन प्रार्थी ने करीब 16 बार एसपी कार्यालय पर अपनी प्रार्थना पत्र दिया और न्याय पाने के लिये हाथ जोड़कर निवेदन भी किया लेकिन अभी तक एसपी स्तर से कोई कार्रवाई नहीं हई। इससे निराश होकर व्यक्ति दुबहड़ थाने पर पहुंचा। लगभग आठ बार थाने पर जाने के बाद पुलिस भी इस मामले में कुछ नहीं कर पायी। अब जनता का विश्वास कैसे पुलिस पर कायम रहेगा। वैसे यह मामला नया नहीं बल्कि पुराना है। प्रार्थी ने बताया कि यदि यहां से बात नहीं बनी तो वह मुख्यमंत्री के जनता दरबार में पहुंचेगे और प्राथमिकता से अपनी बात रखेंगे। या तो हमारा पैसा मिले या हमारी जमीन।

इनसेट
एक नहीं न जाने कितने हुए ठगी के शिकार
बलिया। इस तरह का यह कोई पहला मामला नहीं है बल्कि कई लोगों ने किसी और की जमीन को अपनी जमीन बताकर रजिस्ट्री कर दिया है। और इसमें कौन-कौन लोग शामिल है यह तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा। लेकिन यह भी माना जा रहा है तहसील स्तर से भी कुछ लोग ऐसे ठगों से मिले है और लोगों को ठग रहे है। कई लोग पैसे गंवाने के बाद सदमें में है और बीमार हो गये है।

Jamuna college
Gyan kunj
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *