Ads

1 / 3
Caption Text
2 / 3
Caption Two
3 / 3
Caption Three
3 / 3
Caption Three

Ballia : बलिया में पबजी खेल को लेकर बड़ी घटना, एक मजदूर की मौत

शिवदयाल पांडेय मनन,
बैरिया (बलिया)।
स्थानीय थाना क्षेत्र के दयाछपरा गांव मे सोमवार की शाम छोटे-छोटे बच्चों द्वारा मोबाइल फोन पर पबजी खेल के दौरान धर-धर मार मार कहने पर पड़ोस की महिलाओं के साथ युवाओं ने छोटे बच्चों को मारना पीटना शुरू कर दिया। तब तक बच्चों के अभिभावक योगेंद्र उर्फ जोगीराम जो ढलाई मशीन से मजदूरी करके आए और पूछने लगे की बच्चों को क्यों मार रही हो, तब तक महिलाओं ने योगेन्द्र उर्फ योगी को मार कर लहुलुहान कर दिया। परिजनो ने तुरन्त घायल योगी को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सोनबरसा पहुंचाया। जहा चिकित्सकों ने बलिया रेफर कर दिया। बलिया के चिकित्सकों ने वाराणसी रेफर किया। वाराणसी पहुंचते ही मौत हो गई। बैरिया पुलिस ने मामला पंजीकृत करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार किया है।
बता दे कि सोमवार की शाम योगेंद्र हरिजन उर्फ जोगी के घर के छोटे-छोटे बच्चों ने मोबाइल पर पबजी गेम खेल रहे थे और पबजी गेम में ही मार धाड़ बंदूक ले ले आदि बातें कर रहे थे कि पड़ोस की रानी देवी व आकाश पासवान समेत अन्य ने बच्चों को आकर मारने पीटने लगे। तब तक उसी समय योगेंद्र उर्फ जोगी 38 वर्ष ढलाई मशीन से मजदूरी करके घर आए और पूछने लगे कि बच्चों को क्यों मार रहे हो। तब तक रानी के साथ अन्य महिलाओं और युवाओं ने भी शामिल होकर ईट, पत्थर, टांगी, सरिया आदि से योगेंद्र उर्फ जोगी पर हमला बोल दिया। मारपीट व हो हल्ला सुनते ही योगी के घर के बच्चे भी मौके पर आ गए उन्हे भी चोटे आयी। ग्रामीणों के प्रयास से किसी तरह झगड़ा तो शांत हुआ। तब मारपीट में एक तरफ घायल योगेन्द्र उर्फ जोगी, अनुज कुमार 26 वर्ष, अभिषेक कुमार 17 वर्ष व सुमंत कुमार घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा पहुंचाया गया। जहां चिकित्सको ने गंभीर रूप से घायल योगेंद्र उर्फ जोगी को जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया वहां भी चिकित्सकों ने वाराणसी के लिए रेफर कर दिया जहां वाराणसी ले जाते समय बीच रास्ते मे ही योगी की मौत हो गई। वहां से परिजनों ने मंगलवार को करीब चार बजे भोर में मृतक के शव को लाकर मोर्चरी हाउस में पहुंचे।
इस संबंध में पूछने पर एसएचओ धर्मवीर सिंह ने बताया कि अनुज कुमार की तहरीर पर आकाश पासवान पुत्र अनिल पासवान, विकास पासवान पुत्र अनिल पासवान, पंकज पासवान पुत्र स्वर्गीय रामराज पासवान और रोहित पासवान पुत्र सुभाष पासवान और रानी देवी पत्नी प्रेम शंकर पासवान निवासी दया छपरा की खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया था। योगेन्द्र के मौत होने के बाद धारा 302 व 147 बढ़ाया गया है। आकाश पासवान व रानी पासवान को गिरफ्तार किया गया। शेष आरोपियों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। तनाव को देखते हुए घटनास्थल पर पुलिस की तैनाती कर दी गई है।

Jamuna college
Gyan kunj
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *