Ads

1 / 3
Caption Text
2 / 3
Caption Two
3 / 3
Caption Three
3 / 3
Caption Three

Ballia : भारतीय राजनीति के अजातशत्रु थे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी : दयाशंकर सिंह


जनसंपर्क कार्यालय पर परिवहन मंत्री ने अर्पित की श्रद्धांजलि
बलिया।
भारतरत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी भारत की राजनीति के अजातशत्रु थे। उन्होंने भारत को राजनीतिक अस्थिरता से उबारने के अलावा देश के अंदर राजनीति में शुचिता और पारदर्शिता का एक आदर्श प्रतिमान रखा, जिसके लिए उन्हें आजीवन याद किया जाएगा। यह बातें प्रदेश सरकार के परिवहन मंत्री व नगर विधायक दयाशंकर सिंह ने नारायणी सिनेमा स्थित अपने जनसंपर्क कार्यालय पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि अटल जी ने निःस्वार्थ भाव से देश व समाज की सेवा की और भाजपा की स्थापना के माध्यम से देश में राष्ट्रवादी राजनीति को नई दिशा दी। जहां एक ओर उन्होंने परमाणु परीक्षण और कारगिल युद्ध में विश्व को उभरते भारत की शक्ति का एहसास करवाया, तो वहीं दूसरी ओर देश में सुशासन की परिकल्पना को चरितार्थ किया। उनके विराट योगदान को देश हमेशा याद रखेगा। आज इसीलिए अटल जी की जयंती को सुशासन दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दौरान लोगों ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया। श्री सिंह ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी तीन बार भारत के प्रधानमंत्री रहे हैं। सबसे पहले 1996 में 13 दिनों के लिए वह प्रधानमंत्री बने थे लेकिन बहुमत साबित नहीं कर पाने की वजह से उन्हें इस्तीफा देना पड़ा था। दूसरी बार वे 1998 में प्रधानमंत्री बने लेकिन सहयोगी पार्टियों के समर्थन वापस लेने की वजह से 13 महीने बाद 1999 में फिर आम चुनाव हुए। 13 अक्टूबर 1999 को वे तीसरी बार प्रधानमंत्री बने और इस बार उन्होंने 2004 तक अपना कार्यकाल पूरा किया। वह अपना कार्यकाल पूरा करने वाले पहले गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री थे। वह भारतीय राजनीति के ऐसे नक्षत्र थे जिन्हें तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उनके घर जाकर उनको भारतरत्न दिया था। कहा कि ऐसे युग पुरुष के आदर्शों पर चलकर ही उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि दी जा सकती है। कार्यक्रम में हर्ष सिंह, भाजपा के जिला मंत्री अरुण सिंह बंटू, बब्बन सिंह रघुवंशी, शत्रुघ्न पांडेय, किसान मोर्चा के मनोज पांडेय आदि मौजूद रहे।

Jamuna college
Gyan kunj
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *