Ads

1 / 3
Caption Text
2 / 3
Caption Two
3 / 3
Caption Three
3 / 3
Caption Three

Ballia : प्रख्यात शिक्षाविद डॉ. राबिया ने बच्चों में भरा जोश, दिये सफलता के टिप्स

बलिया। उचित मार्गदर्शन में किया गया सतत प्रयास ही सफलता की कुंजी है। सही दिशा एवं सच्ची निष्ठा से किया परिश्रम कभी व्यर्थ नहीं जाता। ऐसे ही कार्यरत विद्यार्थियों हेतु वार्षिक सत्र के अंत में परीक्षा तथा उनके मूल्यांकन पश्चात श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वालों का उत्साहवर्धन करने हेतु बलिया के सनबीम स्कूल में 8 अप्रैल दिन सोमवार को प्रोत्साहन (पुरस्कार वितरण कार्यक्रम) का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि प्रसिद्ध शिक्षाविद (नीति आयोग से संबंधित) डॉ. राबिया भाटिया द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया। तत्पश्चात मुख्य अतिथि को विद्यालय सचिव अरुण कुमार सिंह,निदेशक डॉ कुंवर अरुण सिंह तथा प्रधानाचार्य डॉ अर्पिता सिंह द्वारा पुष्प गुच्छ एवं अंगवस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में विद्यालय की विद्यार्थियों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम के रूप में शिव स्तुति की प्रस्तुति दी गई, जिसने वहां उपस्थित सभी अभिभावकों एवं विद्यार्थियों को मंत्रमुग्ध कर दिया। आज के कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य वार्षिक सत्र में सर्वाेच्च प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित करना था।

अतः मुख्य अतिथि एवं उपस्थित सभी सम्मानित पदाधिकारियों द्वारा नर्सरी से प्रारंभ करते हुए उच्च वर्ग तक के विद्यार्थियों क्रमशः बेस्ट इन एकेडमिक हेतु राजवीर, मनवीर, प्रतीक रिद्धि मिश्रा आदि 100ः अटेंडेंस हेतु रुद्रांश, मोहम्मद गजाली, देवांश विद्या, उर्वी, सृष्टि, पार्थ, युश्रा मदीहा, मानस, समृद्धि आदि, परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन कर स्कॉलरशिप प्राप्त विद्यार्थियों क्रमशः शिवानी मोहम्मद ताहा, अनमोल, श्रीजीत, समृद्धि, हिमांशी, विपुल, प्राची, प्रियंका तथा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर ग्रैंड मास्टर के रूप में चयनित लुमिनरी समृद्धि सिन्हा (9वीं) तथा सुपर लुमिनरी मास्टर श्रीजीत (7वीं) को सर्वाेच्च प्रदर्शन करने हेतु मेडल एवं ट्रॉफी प्रदान कर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम में उपस्थित अभिभावकों एवं विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए विद्यालय के निदेशक डॉ कुंवर अरुण सिंह ने कहा कि किसी भी कार्य में सफल होने के लिए प्रयासरत व्यक्ति को उसके कार्यों हेतु उचित फीडबैक की अत्यंत आवश्यकता होती है। प्रोत्साहन का उद्देश्य न केवल सफल विद्यार्थियों को पुरस्कृत करना है अपितु अन्य विद्यार्थियों को भी कठिन परिश्रम हेतु प्रेरित करना है। उन्होंने विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास पर बल देते हुए कहा कि इस वर्ष न केवल शैक्षिक अपितु विद्यालय द्वारा क्रीड़ा क्षेत्र में भी उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को छात्रवृत्ति दी जाएगी।


उन्होंने बताया कि इस सत्र से प्रत्येक रविवार को विद्यालय खेल खिलाड़ियों हेतु प्रातः 6 से 9 तक खुला रहेगा, जिसमे प्रशिक्षकों द्वारा खिलाड़ियों को उचित प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस अवसर पर विद्यालय प्रशासक संतोष चतुर्वेदी, सहरबानो, नीतू पांडे, पंकज सिंह, जयप्रकाश यादव, निधि सिंह आदि मौजूद रहे।

डॉ. राबिया ने आयोजित कराया वर्कशाप
विद्यालय में कक्षा 9 से 12वीं तक के विद्यार्थियों हेतु प्रोत्साहन में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित शिक्षाविद डॉक्टर राबिया भाटिया का एक वर्कशॉप आयोजित किया गया, जिसमें उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप महत्वपूर्ण सोच, हैप्पी क्लासरूम की गतिशीलता और 21वीं सदी के अनुरूप सीखने के कौशल पर बल देने की बात कही। डॉ भाटिया ने विद्यार्थियों से उनके कौशल, उनकी रुचि एवं उनके भीतर के गुणों को पहचानने की बात कही। उन्होंने कहा कि केवल आंख बंद करके किसी कार्यक्षेत्र या विषय का चुनाव करने के बजाय आप अपने भीतर के कौशल को पहचान अपना कार्यक्षेत्र चुने।

Jamuna college
Gyan kunj
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *