Ballia : पौधारोपण जन अभियान में जन सहभागिता जरूरी: मंडलायुक्त


बलिया।
पौधारोपण जन अभियान 2023 के तहत जिले के लिए नामित नोडल अधिकारी मंडलायुक्त सौरभ बाबू की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार शाम को पौधारोपण की तैयारियों को लेकर सभी विभागों की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। डीएफओ ने बताया कि यह कार्यक्रम 2 चरणों में संपन्न किया जाता है। पहले चरण में 22 जुलाई को 34.61 लाख एवं द्वितीय चरण में 15 अगस्त को 6.38 लाख पौधारोपण का लक्ष्य जिले के लिए निर्धारित किया गया। डीएफओ ने बताया कि इसमें वन विभाग के तहत 13 लाख पौधारोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने बताया कि पौधारोपण के लिए शत प्रतिशत गड्ढों की खुदाई हो चुकी है और लगभग 95 परसेंट से अधिक पौधों का उठान भी हो चुका है। उन्होंने बताया कि 162 स्थलों पर वन विभाग के रेंज ऑफिसर द्वारा पौधारोपण का स्थान चिन्हित किया गया और लगभग सभी स्थानों का जिओ टैगिंग हो चुका है। इसी तरह ग्राम विकास विभाग में 2361 स्थल, कृषि मे 447 सहित अन्य विभागों जैसे पीडब्ल्यूडी विभाग, जल शक्ति विभाग, ग्राम पंचायत, माध्यमिक शिक्षा, बेसिक शिक्षा, उद्यान विभाग, स्वास्थ्य विभाग, उच्च शिक्षा विभाग में भी पौधारोपण का कार्य वृहद पैमाने पर किया जाएगा।

मंडलआयुक्त ने डीएफओ से जिले के टॉप 10 वृहद पौधारोपण वाले साइटों की सूची देने को कहा और बड़े साइटों की फोटोग्राफी कराने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी विभागों के पौधारोपण की फोटो डिजिटली हरीतिमा ऐप पर अपलोड करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारियों के साथ-साथ हर साइटों पर आम जनों को इस कार्यक्रम से जोड़ना जरूरी है। उन्होंने कहा कि पौधारोपण के उपरांत पौधों की सुरक्षा एवं सिंचाई की उचित व्यवस्था हो और समय से पौधारोपण का शत प्रतिशत जियो टैगिंग किया जाए। उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्रों में स्थापित किए जा रहे नंदनवन से शहर के निवासियों को प्राकृतिक वातावरण के मध्य प्रकृति की व्यवहारिक शिक्षा, योग, ट्रैकिंग, पक्षी अवलोकन और फोटोग्राफी के माध्यम से मनोरंजन का आनंद ले सकते हैं। उन्होंने सभी विभाग के अधिकारियों से आह्वान किया कि बूंद बूंद से सागर भरने की भावना को साकार करते हुए पौधे रोपित कर जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों का सामना करने हेतु सहयोग दें। बैठक में जिलाधिकारी रविंद्र कुमार, सीडीओ प्रवीण वर्मा, डीडीओ राजित राम मिश्र, एडीएम डीपी सिंह, एस पी एस आनंद डीएफओ वीके आनंद सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Comment