Ballia : बलिया के वैश्य : भाजपा से दो, सपा से एक ने की दावेदारी

बलिया से रोशन जायसवाल की एक रिपोर्ट
बलिया।
लोकसभा बलिया सीट से वैश्य समाज से जुड़े तीन नेताओं ने दावेदारी की है। भाजपा से दो और सपा से एक नेताओं ने टिकट के लिये लाइन में लगे हुए है। वैश्य समाज में सबसे प्रमुख नाम रामजी गुप्ता का है। जिन्होंने समाजवादी पार्टी से लोकसभा के टिकट के लिये दावेदारी की है। वैसे वैश्यों में सबसे मजबूत नाम रामजी गुप्ता का आता है।

रामजी गुप्ता 1977 से 2002 तक कम्यूनिष्ट पार्टी के नेता रहे। उसके बाद 2002 में पहली बार बहुजन समाज पार्टी से विधानसभा का चुनाव लड़े, उस समय उनको 27472 वोट मिला था। वहीं समाजवादी पार्टी से नारद राय को 40460 मत मिले थे। 2007 में राष्ट्रीय समानता दल से 15036 मत मिले थे। वहीं बसपा प्रत्याशी मंजू सिंह को 32084 मत मिले थे। 2012 में कौमी एकता दल से चुनाव लड़े रामजी गुप्ता को 33747 मत मिले थे। वहीं सपा प्रत्याशी नारद राय को 58875 मत मिले थे। रामजी गुप्ता के दावेदारी को लेकर वैश्य समाज में खुशी का माहौल है।

वहीं भारतीय जनता पार्टी से रिटायर्ड सीएमओ बीएन गुप्ता ने दावेदारी की है। जो गाजीपुर में मुख्य चिकित्साधिकारी रहे है। इनके भतीजे अजय कुमार समाजसेवी नगरपालिका बलिया के अध्यक्ष रहे है। अजय कुमार को चेयरमैन बनाने में बीएन गुप्ता का भी प्रमुख रोल रहा है। इसके अलावा व्यापारी नेता में अशोक कुमार गुप्ता जो व्यापारियों के हक की लड़ाई लड़ते है उन्होंने भी दावेदारी की है। ऐसे में वैश्य समाज के तीन नेताओं ने लोकसभा चुनाव लड़ने के लिये दावेदारी भाजपा और सपा से की है। वैसे वैश्य समाज का वोट व पिछड़ा समाज का वोट बलिया में ज्यादा है। इस नाते वैश्य समाज के नेताओं ने लोकसभा के लिये दावेदारी की है। अब देखना यह होगा कि सपा और भाजपा इन वैश्य नेताओं के बारे में अपनी क्या भूमिका निभाती है।

इसे भी पढ़े -   Ballia : एक्सपायरी दवा बेचने की शिकायत पर डीआई ने किया निरीक्षण, लिए नमूने

Leave a Comment