Ads

1 / 3
Caption Text
2 / 3
Caption Two
3 / 3
Caption Three
3 / 3
Caption Three

इकलौते बेटे के वहशी करतूत से पुलिस अधिकारी भी हैरान

बुजुर्ग पिता की उसके इकलौते बेटे ने ही पीट-पीटकर मार डाला। हत्या करने के बाद वह पिता के शव के साथ रात भर कमरे में बंद रहा। बताया जा रहा है कि बेटा नशे का आदी था। यह घटना झांसी के छनियापुरा मोहल्ले की है। गोपाल अहिरवार 60 वर्ष पुत्र रामदास परिवार के साथ छनियापुरा मोहल्ला में रहते थे।
आसपास के लोगों की सूचना पर कोतवाली पुलिस पहुंच गई। फॉरेंसिक टीम को भी बुला लिया गया। आरोपी युवक को हिरासत में लेकर पुलिस कोतवाली पहुंची। यहां उससे पूछताछ की जा रही है। कोतवाली के छनियापुरा मोहल्ला निवासी गोपाल अहिरवार (60) पुत्र रामदास परिवार के साथ छनियापुरा मोहल्ला में रहते थे।
पत्नी शंकुलता के हाथ में फ्रैक्चर होने से वह बेटी के साथ ताल बेहट चली गई थीं। बेटा आशीष (25 वर्ष) ही पिता के साथ रहता था। पड़ोसियों का कहना है कि आशीष आपराधिक प्रवृत्ति के साथ ही नशे का आदी है। शुक्रवार शाम पड़ोस में रहने वाली पिस्सा ने खाना बनाकर गोपाल को खिला दिया। इससे आशीष नाराज हो गया। रात में शराब के नशे में पिता गोपाल की बेरहमी से पिटाई करने लगा। पड़ोसियों ने मुताबिक रात करीब बारह बजे तक गोपाल के चीखने-चिल्लाने की आवाज आती रही। कुछ देर बाद आवाज आनी बंद हो गई। शनिवार पूरे दिन घर से आशीष बाहर नहीं निकला। शनिवार रात करीब आठ बजे उसके निकलने पर पड़ोसियों ने बिस्तर पर गोपाल की लाश पड़ी देखी। सूचना पर एसपी सिटी ज्ञानेंद्र सिंह, कोतवाली प्रभारी शैलेंद्र सिंह पहुंच गए। फॉरेसिंक टीम को भी बुला लिया गया। गोपाल के शरीर में चोट के निशान मिले। पुलिस आरोपी को हिरासत में लेकर कोतवाली पहुंची। एसपी सिटी ज्ञानेंद्र सिंह के मुताबिक हत्या की वजह अभी साफ नहीं हो सकी। आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

Jamuna college
Gyan kunj
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *