Ads

1 / 3
Caption Text
2 / 3
Caption Two
3 / 3
Caption Three
3 / 3
Caption Three

Ballia : पावन पवित्र चैत्र मास में चैता गायन का हुआ आयोजन


आनन्द सिंह
सहतवार (बलिया)।
स्थानीय नगर पंचायत के बीचो-बीच स्थित महतपालेश्वर नाथ (पंच मंदिर) प्रांगण में शनिवार की देर शाम पावन पवित्र चैत्र मास में चैता गायन का आयोजन किया गया। इस चैता गायन में भोजपुरी के बहुचर्चित व्यास कमलबास कुंवर व अरविंद सिंह ’अभियंता’ द्वारा सुमिरन के पश्चात पारंपरिक चौत्र गीत प्रस्तुत किए गए। कार्यक्रम की शुरुआत गणेश वंदना के साथ आरंभ चैता गायन में चैैत्र मास राम जन्म ले ले बाजेला आनंद बधइयां ए रामा घरे घरे जैसे कई भक्ति गीतों के साथ-साथ श्रृंगार रस से ओतप्रोत चैता गीत अंगुली में डसले पिया नगीनिया, ए नंदो पिया के जगादा, रामा पिया पिया रटते पियर भइले देहिया हे रामा चैतवा में ,सुतल बलम के जगाई हो रामा जैसे एक से बढ़कर एक चौत्र गीत व्यास द्वय द्वारा प्रस्तुत किए गए, जिससे प्रसन्न श्रोताओं को पूरी रात झूमने पर मजबूर कर दिया।

इस चैता गायन से पूर्व बतौर अतिथि चेयरमैन प्रतिनिधि नीरज सिंह गुड्डू द्वारा मंदिर के पुजारी उमाशंकर दुबे व दोनों व्यासों को अंग वस्त्र के पश्चात माल्यार्पण कर चौता गायन की शुरुआत की गई। इस दौरान नीरज सिंह गुड्डू ने स्थानीय लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि पहले जब चैता मास आरंभ होता था। उसी समय से पूरे माह हर जगह चैता गायन का आयोजन होता था। लेकिन आज के परिवेश में यह लगभग विलुप्त होता जा रहा है। श्री सिंह द्वारा कमेटी को धन्यवाद देते हुए कहा कि हमारे पूर्वजों द्वारा अनवरत यह कार्यक्रम मेरे नगर में चला आ रहा है।

इस हेतु मैं आयोजन समिति को धन्यवाद देता हूं। बताया कि हमारे नगर में पूर्वजांे द्वारा चैता मास में बनाई गई। इस परंपरा को निभाने के लिए आज भी हमारे नगर के युवा उस परंपरा को बनाए रखे है, वो सभी बधाई के पात्र है। आगामी हिंदुओं के लिए रामनवमी का एक महत्वपूर्ण पर्व है। आप सभी सच्चे मन से चैता रामनवमी का त्यौहार मनाये। प्रभु श्री राम एवं जगत जननी जगदंबे मां से मैं आप सबके लिए सुख, समृद्धि एवं शांति की कामना करता हूं। इस मौके पर प्रमुख रूप से पवन कुमार गुप्ता, डॉ0 सुरेश प्रसाद, टुनटुन सिंह, गोपाल कृष्ण गुप्ता, रिंकू सिंह, कृष्ण कुमार गुप्ता, मनोज गुप्ता, बालेश्वर प्रसाद, तकई प्रसाद, समर सिंह, लक्ष्मण सिंह, बाबूलाल, राज सिंह, मनोज चौहान, मनोज कुमार, शिवजी विधायक, रामेश्वर प्रसाद, वीरेंद्र सोनी ध्रंुव सिंह इत्यादि प्रमुख रूप से रहे।

Jamuna college
Gyan kunj
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *