Ads

1 / 3
Caption Text
2 / 3
Caption Two
3 / 3
Caption Three
3 / 3
Caption Three

Ballia : मनस्थली एजुकेशन सेंटर में चल रहे समरकैंप का हुआ समापन


रेवती (बलिया)।
स्थानीय मनस्थली एजुकेशन सेंटर रेवती में 14 से 18 मई तक चल रहे समरकैंप का समापन सोमवार को हुआ। समर कैंप में बच्चों ने बड़े ही उत्साह के साथ हिस्सा लिया। प्रधानाध्यापक चंद्र मोहन मिश्र के नेतृत्व में विद्यालय की शिक्षक-शिक्षिकाओं ने बच्चों के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को बड़े ही सुनियोजित तरीके से निभाया। समरकैंप का भव्य समापन प्रबंधक डॉ. अरुण प्रकाश तिवारी की मौजूदगी में हुआ, जिसकी शुरुआत मां सरस्वती प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन तथा माल्यार्पण से हुई। समरकैंप समापन पर बच्चों ने उन हर एक क्रियाकलापों की प्रदर्शनी लगाई, जिसकी सीख उन्हें कैंप में मिली थी।

इनमें आर्ट एंड क्राफ्ट गैलरी, पत्ती और पत्थर की सजावट, पेंटिंग गैलरी, बिना आग बने स्वादिष्ट व्यंजन, सिलाई एवं कढ़ाई के उत्कृष्ट नमूने, मछली घर और पौधारोपण, योगा, नृत्य, गायन, वादन इत्यादि कलाओं का बेहतरीन प्रदर्शन शामिल रहा। इससे इतर बच्चों ने जिस अंदाज में दुष्प्रभाव को प्रदर्शित किया, वह काफी सराहनीय रहा। वहीं, 9वीं और 10वीं के छात्रों द्वारा प्रेरक कहानियां प्रस्तुत की गई, जिसकी एंकरिंग शशिकांत सर, चंचल मैडम, गीता सिंह, राज सर, अंजलि मैम व प्रवीण सर ने सफलता पूर्वक किया।

समर कैंप में शिक्षक रंजीत तिवारी, जया पांडे, ज्योति पांडे, बसंत पांडेय, दीक्षा, पूजा दुबे, पूजा तिवारी, मेधा, वंदना त्रिपाठी, स्मिता मैडम आशा मैडम, नागेन्द्र चौबे. जे. ठाकुर, प्रीति पांडे, अविनाश पांडे, एसएन पांडे, कंचन मिस, संतोष पांडे, विवेक मिश्रा सर, प्रशांत सर, त्रिलोचन सर, कौशल सर इत्यादि सक्रिय रहे।

वहीं, विद्यालय के संरक्षक सत्य प्रकाश तिवारी ने इस सफल आयोजन के लिए सभी को बधाई दी। प्रबंधक डॉ. अरुण प्रकाश तिवारी ने कहा कि समर कैंप जैसे कार्यशालाओं के आयोजन से बच्चों का सर्वांगीण विकास होता है। उनके अंदर छिपी प्रतिभा को निखारने का मौका मिलता है। छात्र-छात्राओं द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी इसका जीता-जागता उदाहरण है। डॉ. तिवारी ने अभिभावकों के सहयोग की प्रशंसा करते हुए बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

Jamuna college
Gyan kunj
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar
Jamuna Ram snakottar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *