यूपी के कामगारों के लिये सुनहरा अवसर, हर माह मिलेंगे 1.38 लाख वेतन

लखनऊ। यूपी से आने वाले दिनों में 10 हजार से अधिक निर्माण श्रमिक इजराइल भेजे जाएंग। श्रम एव ंसेवयोजन विभाग ने इसकी पहल शुरू कर दी है। सभी जिलों को इच्छुक कामगारों का डाटा एकत्र करने को कहा गया है। फिर उन्हं एक टेस्ट पास करने के बाद इजराइल भेजा जाएगा। हमास द्वारा हमला किये जाने के बाद इजराइल ने सभी फिलिस्तीनियों के वर्क परमिट निरस्त कर दिये थे। ऐसे में वहां श्रमिकां का खास संकट पैदा हो गया है। इजराल के लिये निर्माण क्षेत्र में कई सेक्टरों के लोगों की जरूरत है। इसमें फ्रेमवर्क, शटरिंग, कारपेंटर, आइरन बेडिंग, सेरेमिक टाइल और प्लास्टिरिंग सहित अन्य काम शामिल है। इसराइल में युद्ध के बाद वहां पर नवनिर्माण में श्रमिकों की जरूरत बताई जा रही है। इसमें फ्रेमवर्क, शटरिंग, कारपेंटर, आइरन बेडिंग, सेरेमिक टाइल और प्लास्टिरिंग सहित अन्य काम शामिल है। इसमें काम का अनुभव होने के साथ ही हाईस्कूल तक शिक्षा भी जरूर है। जबकि आयु सीमा 25 से 45 साल के बीच रखी गई है। इजराइल जाने वाले निर्माण श्रमकां को हर माह भारतीय मुद्रा के हिसाब से एक लाख 38 हजार रूपये मिलेंगें। इसको लेकर सभी जिलों के अधिकारियों की वर्चुअल बैठक की गई।

Leave a Comment