Ballia : प्रदत्त अधिकारों का अपहरण कर सत्ता पर बने रहना चाहती है भाजपा सरकार : संग्राम सिंह

राजकुमार यादव
बलिया।
देश और प्रदेश कि सत्ता पर काबिज भाजपा सरकार लोकतंत्र एवं संविधान द्वारा प्रदत्त अधिकारों का अपहरण कर सत्ता पर बने रहना चाहती है। उक्त बातें फेफना विधान सभा क्षेत्र से विधायक एवं समाजवादी पार्टी के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष संग्राम सिंह यादव ने 31 जनवरी 2024 को अपने जलालपुर स्थित आवास पर आयोजित प्रेस वार्ता में कही। सपा जिलाध्यक्ष संग्राम सिंह यादव ने पत्र प्रतिनिधियों से बात करते हुए कहा कि मतदाता सूची पुनर्निरीक्षण के बाद जो नई मतदाता सूची जारी किया गया है, उसमें व्यापक अनियमितता हुई है। विधान सभा चुनाव 2022 के दौरान जिन लोगों का नाम मतदाता सूची में था उन लोगों का भी नाम काट दिया गया है। विशेषरूप से समाजवादी पार्टी के समर्थन वाले बूथों और गाँवों में सपा समर्थक मतदाताओं को चिन्हित करके उनका नाम काटा गया है। जो लोकतंत्र एवं संविधान द्वारा प्रदत अधिकारों के अपहरण के समान है। थाने और पुलिस चौकियां भाजपा कार्यालय के तरह काम कर रहे हैं, सपा कार्यकर्ताओं को उनके द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है और फर्जी मुकदमों में फसाने की धमकी भी दी जा रही है। जिला चिकित्सालय से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों के चिकित्सालयों की खस्ताहाल स्थिति है। कहीं भी आवश्यकता के अनुपात में चिकित्सक नहीं है, दवाइयों का अभाव है और जिला चिकित्सालय एक रेफरल हॉस्पिटल बन कर रह गया है, जिससे मरीजों को छोटी-छोटी बिमारियों के इलाज के लिए अन्य जनपदों में जाना पड़ रहा है जिस कारण उनका आर्थिक और मानसिक शोषण हो रहा है। सपा जिलाध्यक्ष ने आरोप लगाया कि बिजली बिल बकाया वसूली के नाम पर गरीब किसानों एवं आम जनों को प्रताड़ित किया जा रहा है। कभी एफआईआर दर्ज कराया जा रहा है तो कभी आर सी काटा जा रहा है। इन सब के कारण गरीब एवं आम जनमानस मानसिक रूप से प्रताड़ित हो रहा है। सपा जिलाध्यक्ष संग्राम सिंह यादव ने विकास के सवाल पर सरकार को नकारा साबित करते हुए कहा कि पिछले लगभग 7 वर्षों से उ.प्र. की वर्तमान सरकार समाजवादी पार्टी की सरकार में किये गए जनहित एवं विकास कार्यों का फीता काट रही है या नाम बदल रही है. इनकी उपलब्धि यही है। वर्तमान सरकार द्वारा अब तक जनपद में विकास के नाम पर एक भी कार्य नहीं किया गया सिर्फ अखबारों में वयान या विज्ञापन दिया जाता है। वर्तमान में जनपद की अच्छी सड़कों को पाईप या तार डालने के नाम पर खुदाई कर छोड़ दिया गया है, जिससे राहगीरों को परेशानी हो रही है और दुर्घटनाएं भी अधिक हो रही है, जिसके लिए सरकार सीधे-सीधे जिम्मेदार है। दिल्ली की पीड़िता बेटी (निर्भया) जो जनपद के मेडवरा कला की निवासी थी, हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश सिंह यादव जी उनके गाँव स्वयं आये थे, वहां की सड़क बनवाए और एक हास्पिटल बनवाए। आज सड़क और हास्पिटल दोनों की दशा दयनीय है, लेकिन सरकार का उस पर कोई ध्यान नहीं है। उन्होंने फेफना को ब्लाक बनाने की मांग करते हुए कहा कि इसके लिए मैं विधानसभा में भी आवाज उठाऊंगा। संग्राम यादव ने जनेश्वर मिश्र सेतु को बिहार के बक्सर-पटना मार्ग से जोड़ने की भी मांग की। सपा जिलाध्यक्ष ने एक सवाल के जतान में कहा कि देश और प्रदेश में नियुक्ति का कोई विज्ञापन नहीं निकल रहा है, पढ़े लिखे युवा रोजगार के लिए इधर-उधर भटक रहे हैं। रोजगार न मिलने के कारण युवा हताशा का शिकार हो रहे हैं और भाजपा अपने सता के अंकगणित का हिसाब बैठाने में मशगूल है, जो देशहित एवं जनहित में कतई नहीं है। इस अवसर पर महासचिव बीरबल राम, उपाध्यक्ष/प्रवक्ता सुशील पाण्डेय कान्हजी, अनिल राय शशिकांत चतुर्वेदी, कंचन भारती, राजेंद्र यादव, दिनेश यादव, रोहित यादव आदि उपस्थित रहे।

Leave a Comment