Ballia : ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे का निर्माण बलिया के विकास की लिखेगी नई इबारत: वीरेन्द्र सिंह मस्त


बैरिया।
चहुओर से बलिया को विकसित करने का सपना लिए सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने कहा कि ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे का निर्माण बलिया के विकास की नई इबारत लिखेगी। वही जल परिवहन व बलिया आरा नई रेल लाइन बलिया को विकसित जनपद के रूप में पूरे उत्तर प्रदेश में विख्यात करेगा। मेरा प्रयास है कि ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे के शिलान्यास के बाद बलिया आरा रेल लाइन का शिलान्यास भी यथाशीघ्र करा कर निर्माण कार्य शुरू कराया जाए। सांसद शुक्रवार को दोकटी स्थित अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जल्द ही प्रयागराज से कोलकाता तक नियमित गंगा नदी में पानी की जहाज का परिचालन शुरू होगा, जिससे सड़क मार्ग व रेल मार्ग से कम किराए में व्यापारी व किसान अपना माल देश के विभिन्न स्थानों पर ले जा सकते हैं अथवा वहां से मंगा सकते हैं। सांसद ने स्पष्ट किया कि रेलवे का डीपीआर बन चुका है। सहतवार से आरा स्टेशन को जोड़ा जाएगा, जो हल्दी के बगल से नैनिजोर होते हुए बिहिया जाकर मिलेगा। नैनिजोर के पास गंगा में रेल पुल का निर्माण किया जाएगा। कितने स्टेशन और किन-किन स्थानों पर बनेंगे। इसका भी निर्णय रेलवे ने ले लिया है। सांसद ने कहा कि रेलवे के क्षेत्र में बहुत सारे विकास कार्य प्रस्तावित है। जो शीघ्र ही धरातल पर दिखेगा। उन्होंने कहा कि बलिया व सुरेमनपुर रेलवे स्टेशन अमृत भारत रेलवे स्टेशन के रूप में चयनित किया गया है। इन दोनों स्टेशनों पर यात्रियों की सुविधा के सभी संसाधन उपलब्ध होने के साथ-साथ दोनों स्टेशन हाईटेक होंगे। बकुलहा में रेलवे यार्ड बनाने के संदर्भ में रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव व प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी से मेरी वार्ता हो चुकी है। जल्द ही इस दिशा में सार्थक कार्रवाई की जाएगी। ऐसा आश्वासन हमारे दोनों नेताओं ने मुझे दिया है। डुमाईगढ़ घाट से दोकटी घाट तक पक्की सीमेंट सड़क का निर्माण कराकर गंगा तट से सरयू तट को जोड़ा जाएगा। शिवपुर मे निर्माणाधीन सड़क पुल के रास्ते ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे को आरा के फोरलेन सड़क से जोड़ा जाएगा। यह दूरी महज 14 किलोमीटर होगी। इसके संदर्भ में भी कार्य योजना तैयार हो रहा है। विरेंद्र सिंह मस्त ने जनपद के लोगों से भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के 27 फरवरी को बलिया आगमन पर ऐतिहासिक स्वागत का आह्वान किया है। साथ ही भृगु मंदिर से गंगा तट तक पक्की सड़क व चित्तू पांडे चौराहा से भृगु आश्रम तक ओवरब्रिज के निर्माण की स्वीकृति मिलने की बात भी कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *