Ballia : बलिया बलिदान दिवस पर बागियों की धरती पर गूंजा वंदेमातरम

डिप्टी सीएम, मंत्री और सांसद ने बलिदानियों के परिजनों को किया सम्मानित

रोशन जायसवाल,
बलिया।
बलिया बलिदान दिवस पर जिला कारागार से विशाला जुलूस निकाला गया। इसमें बलिदानियों के परिजन और सेनानियों ने भी बढ़ चढ़ कर हिस्सेदार की। उत्तर प्रदेश सरकार के डिप्टी सीएम बृजेश पाठक, कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह, राज्यमंत्री दानिश आजाद अंसारी, सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त, दिनेश लाल निरहुआ, रविंद्र कुशवाहा, राज्यसभा सांसद नीरज शेखर, पूर्व मंत्री उपेंद्र तिवारी, पूर्व विधायक संजय यादव, जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष विनोद शंकर दूबे, चेयरमैन संतकुमार मिठाई लाल, अमरजीत सिंह, चेयरमैन प्रतिनिधि दिनेश गुप्ता, जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू, छट्ठू राम आदि ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस अवसर पर डिप्टी सीएम बृजेश पाठक को जिलाधिकारी रविंद्र कुमार और पुलिस अधीक्षक एस आनंद ने राम दरबार भेंट कर सम्मानित किया।
इस दौरान डिप्टी सीएम ने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि मैं आज बलिदानियों की धरती पर हूं और आज के दिन आयोजित कार्यक्रम में उप

स्थित सेनानियों और बलिदानियों के परिजनों को नमन करता हूं और मैं भरोसा दिलाता हूं कि बलिया बलिदान दिवस हर साल ऐतिहासिक होगा और मेरी पूरी कोशिश होगी कि इस पावन पर्व पर मैं आप लोगों के बीच रहूं। कहा कि बलिया के बारे में बलिया ही नहीं पूरा देश जानता है। यहां के क्रातिकारियों ने बलिया को किस तरीके से अपने जानों की परवाह न करते हुए अंग्रेजों के चंगुल से आजाद रखा।


परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि बलिया सबसे पहले आजाद हुआ। इतनी आसानी से अंग्रेजों से बलिया को आजादी नहीं मिली, इसमें कितने ही क्रांतिकारियों ने कुर्बानी दी हैं। बैरिया में एक साथ कितने लोग शहीद हुए और बलिया शहर में भी कई लोगों ने अपने प्राणों की आहूति दी। आज मुझे खुशी हो रही है कि बलिया में इतना बड़ा आयोजन के माध्यम से बलिदानियों के परिजनों को अपने तरफ उन्हें 75 इलेक्ट्रिक स्कूटी दे रहा हूं। साथ ही आजादी के समय रहे सेनानी पं. रामविचार पांडेय को एक कार सप्रेम भेंट कर रहा हूं। मैं अपने आपको सौभाग्यशाली समझ रहा हूं। उन्होंने वादा किया कि इस इतिहासिक क्षण को और बेहतर बनाने के लिये हर साल नौ अगस्त से लेकर 25 अगस्त तक देश के नाम बलिया में इसी तरह से विशाल कार्यक्रम का आयोजन किया जाता रहेगा।

इसे भी पढ़े -   Ballia : ट्रैक्टर की चपेट में आने से किशोरी की मौत, दो घायल


कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह को बधाई देते हुए कहा कि बलिया बलिदान दिवस पर इतने बड़े कार्यक्रम को आयोजित कर मंत्री दयाशंकर सिंह ने बलिया के क्रांति की यादों को ताजा किया है। बलिया का नाम आज पूरे भारत में हैं। यहां के लोगों ने आजादी में जो भूमिका निभायी उसको हम कभी नहीं भूल सकते।


राज्यमंत्री दानिश आजाद अंसारी ने कहा कि गुलाम भारत में बलिया को सबसे पहले आजादी दिलाने वाले अमर शहीदों को मैं नमन करता हूं और मैं बचपन से ही बलिया बलिदान दिवस को देखते आ रहा हूं। आज मैं उन बलिदानियों के परिजनों को नमन करता हूं साथ ही उनके दिये हुए कुर्बानियों को हमेशा याद किया जाता रहेगा। उन्होंने मंत्री दयाशंकर सिंह को बधाई दी कहा कि इस तरह का कार्यक्रम और भी बेहतर हो इसके लिये हम सभी को आगे आना चाहिए।

इनसेट
ई बागी बलिया ह- निरहुआ
आजमगढ़ के लोकप्रिय सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ ने भोजपुरी अंदाज में भाषण दिया। कहा कि ई बागी बलिया ह, यहां के हर लोगों के अंदर बगावत की चिंगारी जलती है, एक चिंगारी लोकसभा के सदन में देखा, जब हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विपक्ष के नेताओं ने गलत तरीके से टिप्पणी की और उसी बीच में इसी बागी धरती से बलिया के लोकप्रिय सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त को बर्दाश्त नहीं हुआ और उठकर वह प्रधानमंत्री के खिलाफ गलत टिप्पणी करने वाले लोगों की तरफ बढ़ गये। यही है कि बगावत, जिसके नाम से बलिया जाना जाता है। उन्होंने कहा कि मैं दयाशंकर सिंह के आमंत्रण पर आया हूं, और मैं बधाई देना चाहता हूं कि इस तरह का कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें हजारों लोग कार्यक्रम में शामिल है।

इसे भी पढ़े -   Ballia : यूपी में एक साल और सेवा करेंगे मुख्य सचिव डीएस मिश्रा

सांसद वीरेंद्र सिंह ने कहा कि देश की आजादी में एक से एक क्रांतिकारी आगे आए। जिन्हें हम याद करते है और नमन करते है। बलिया में भी बलिदानियों ने अपने प्राणों की आहूति देत हुए बलिया को आजाद ही नहीं कराया बल्कि पूरे भारत में यह संदेश दिया कि बागी बलिया उत्तर प्रदेश में है। यह वही उत्तर प्रदेश का बलिया है जहां पर एक से एक क्रांतिकारियों ने बलिया के मान सम्मान पूरे विश्व में फैलाया।


राज्यसभा सांसद नीरज शेखर ने कहा कि बलिया के आजादी में जो सपना बलिदानियों ने देखा था, आज उसी की देन है कि हम आजादी के खुले माहौल में सांस ले रहे हैं। आज उनकी देन है कि आज इतना बड़ा आयोजन बलिया की धरती पर हो रहा है। मैं नमन करता हूं इस धरती को, जिसने एक से एक क्रांतिकारियों को जन्म दिया।


ऐतिहासिक कार्यक्रम की सफलता पर सांसद रविंद्र कुशवाहा ने मंत्री दयाशंकर सिंह को बधाई देते हुए कहा कि इस पुरानी परपंरा को हर साल की तरफ आयोजन करते हुए हम सबका योगदान इसी तरह बना रहे यही मैं उम्मीद करता हूं।


इस अवसर पर जिलाधिकारी रविंद्र कुमार, पुलिस अधीक्षक एस आनंद, अपर पुलिस अधीक्षक दुर्गाशंकर मिश्र आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन शिवकुमार कौशिकेय ने किया।

Related posts:

देश को आर्थिक व सामाजिक गुलाम बना रही भाजपा: मिस्री लाल
Ballia : स्व0 विक्रमादित्य की स्मृति में नगर के विभिन्न स्थानों पर जलाये गये अलाव
Ballia : नेशनल स्पोर्ट्स एंड गेम्स में कराटे खिलाड़ी अस्मित पटेल का रहा जलवा
Ballia : चिलकहर में बढ़ी मोबाइल चोरी की घटनाएं
बलिया: डीएम ने आरटीपीसीआर लैब का किया निरीक्षण, पीसीआर सिस्टम के बारे में
Ballia : देखिये! नेताजी तीर चलाएंगे या साइकिल
महिला सशक्तिकरण की उड़ी धज्जियां, बलिया में शराबी ने सरेआम की मासूम पुत्री व मां की निर्ममता से पिट...
Ballia : चंद्रशेखर आजाद के मूर्ति का विधायक ने किया अनावरण
Ballia : जिलास्तरीय शूटिंग प्रतियोगिता: आसिफ और अमन ने मारी बाजी
Ballia : काजीपुरा रेलवे क्रासिंग के पास पुलिस को मिली सफलता

Leave a Comment