Ballia : बलिया लोकसभा सीट पर कांग्रेस के अजय राय का चल रहा नाम

बलिया लोकसभा सीट पर सपा की साइकिल दौड़ेंगी या कांग्रेस का पंजा, अंबिका चौधरी के भी लड़ने की चर्चा
रोशन जायसवाल,
बलिया।
देश की आजादी के बाद कांग्रेस से कई नामी गिरामी चेहरे बलिया लोकसभा सीट से चुनाव लड़ चुके है। इस सीट से कांग्रेस को तीन बार सफलता हासिल हो चुकी है। पहली बार कांग्रेस से 1957 में ठाकुर राधा मोहन सिंह सांसद बनें। 1962 में मुरली बाबू चुनाव जीते। उसके बाद चंद्रिका बाबू 1967 में सांसद बने। वहीं 1971 में भी चंद्रिका बाबू ने जीत हासिल की।

उसके बाद 1984 में जगन्नाथ चौधरी बलिया के सांसद बने। इसके बाद कांग्रेस बलिया लोकसभा सीट से लगातार चुनाव लड़ती लेकिन सफलता की तरफ नहीं बढ़ी। अपने इतिहास को दोहराता कांग्रेस अब अपनी खोई हुई जमीन को वापस लेने के लिये एक बेहतर और मजबूत उम्मीदवार के रूप में कांग्रेस के मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष अजय राय के चुनाव लड़ने की चर्चा हो रही है। हालांकि अभी इसकी पुष्टि नहीं है लेकिन अजय राय के नाम पर बलिया के कांग्रेसी बेहद खुश है।

वैसे सच्चाई क्या है ये कांग्रेस ही बता सकती है। कांग्रेस के मुन्ना उपाध्याय का कहना है कि अजय राय मोहम्मदाबाद गाजीपुर के रहने वाले है और बलिया लोकसभा में भूमिहारों की संख्या अधिक हैं। इसलिये कांग्रेस अजय राय को एक मजबूत उम्मीदवार के रूप में देख रही है। कांग्रेस अपनी राजनीतिक सेटिंग इंडिया गठबंधन के घटक दल सपा से किस तरह से करेंगी ये बताना बड़ा मुश्किल हो रहा हैं क्योंकि सपा मुखिया अखिलेश यादव ने अभी तक बलिया लोकसभा सीट पर किसी के लड़ने की चर्चा नहीं की है। वैसे इस सीट से कई चेहरे टिकट के दौड़ में है। पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी, सनातन पांडेय, नारद राय, रामइकबाल सिंह के नाम की चर्चा सपा के राजनीतिक गलियारों में चल रही है। वैसे ज्यादा संभावना अंबिका चौधरी पर बनी हुई है। वहीं अब तय यह होना है कि बलिया के लोकसभा सीट पर सपा की साइकिल दौड़ेंगी या कांग्रेस का पंजा।

Leave a Comment