Ballia : धरना आठवें दिन भी रहा जारी, पांच जनवरी से संवैधानिक सत्याग्रह का ऐलान…


बलिया।
भारत के राजपत्र संविधान, शासनादेश के अनुपालन में गोंड अनुसूचित जनजाति का प्रमाण-पत्र जारी करने की मांग को लेकर ऑल गोंडवाना स्टूडेन्ट्स एसोसिएशन (आगसा) के तत्वावधान में बलिया सदर मॉडल तहसील पर धरना 4 जनवरी 2024 को आठवें दिन भी जारी रहा। इस दौरान बलिया सदर नायब तहसीलदार व उप जिलाधिकारी धरना स्थल पर पहुॅचकर जाति प्रमाण पत्र जारी हो जाने का आश्वासन देते रहे लेकिन जनजाति गोंड छात्र नौजवान आन्दोलन धरना प्रदर्शन पर डटे रहे। इस दौरान आदिवासी जनजाति गोंड समुदाय के लोगो ने कहा कि मा0 प्रमुख सचिव उ0प्र0 शासन समाज कल्याण अनुभाग-3, लखनऊ शासनादेश संख्या-129/2021/3206/26-3-2021 दिनांक 03.11.2021 के अनुपालन में बलिया सदर तहसीलदार महोदया द्वारा पत्र संख्या-551/टंकक-तह0 बलिया 27 दिसंबर 2023 को गोंड जनजाति का प्रमाण-पत्र सुगमता पूर्वक जारी करने हेतु समस्त राजस्व निरीक्षक/लेखपालगण को आदेशित/निर्देशित किया गया है। उक्त पत्र के जारी होने के नौ दिन बीत जाने के बाद भी लेखपालगण द्वारा अभी भी गोंड अनुसूचित जनजाति का प्रमाण-पत्र जारी नहीं किया जा रहा है। ऑनलाईन आवेदन करने पर आवेदन अस्वीकृत/निरस्त कर दिया जा रहा है जिससे साबित होता है कि जिला व तहसील प्रशासन द्वारा केवल कागजी घोड़ा ही दौड़ाने का काम किया जा रहा है। बलिया जिले में आदिवासी जनजाति समुदाय का उत्पीड़न चरम पर है। आगे कहा कि उ0प्र0 पुलिस भर्ती में अनु0 जनजाति हेतु 1204 सीटें आरक्षित है। जाति प्रमाण-पत्र के अभाव में गोंड समुदाय के छात्र नौजवान उ0प्र0 पुलिस भर्ती जैसी विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में आवेदन करने से वंचित हो जाने का संकट खड़ा हो गया है। ऑल गोंडवाना स्टूडेन्ट्स एसोसिएशन (आगसा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज शाह व जिलाध्यक्ष राकेश कुमार गोंड ने संयुक्त रूप से कहा कि यदि तत्काल जाति प्रमाण पत्र जारी होना प्रारंभ नहीं हुआ तो आन्दोलन के अगले क्रम में 5 जनवरी 2024 से छात्र नौजवानों द्वारा सामूहिक संवैधानिक सत्याग्रह अनशन प्रारंभ किया जाएगा जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी तहसील व जिला प्रशासन की होगी। आगे कहा कि जब रसड़ा तहसील व बैरिया तहसील में गोंड अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र जारी किया जा रहा है तो जिले के समस्त तहसीलों में राजपत्र व शासनादेश के अनुपालन में गोंड अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र सुगमता पूर्वक जारी किया जाना चाहिए। धरना में प्रमुख रूप से जीउत जी गोंड, अरविन्द गोंडवाना, कृष्णा कुमार गोंड, सुरेश शाह, संजय गोंड, कन्हैया गोंड, सचिन कुमार गोंड, रवि गोंड, श्रीभगवान गोंड, दीपक कुमार गोंड, दीपू कुमार गोंड, अंकित कुमार गोंड, बाबू लाल गोंड, रामजी गोंड, विशाल गोंड, सोनू गोंड, लक्ष्मण गोंड, अशोक गोंड, चन्द्रशेखर, शिवमंगल गोंड शामिल रहे।

Leave a Comment