Ballia : पिता के तहरीर पर शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज


शिक्षकों ने छात्रों को दौड़ाकर पीटा, प्रभारी प्रधानाध्यापक समेत दो सस्पेंड
बलिया।
जिले के शिक्षा क्षेत्र मनियर के उच्च प्राथमिक विद्यालय बड़ागांव में कथित रूप से बुधवार को अध्यापकों द्वारा बच्चों की बेरहमी से पिटाई का वीडियो सामने आते ही बीएसए मनीष कुमार सिंह ने प्रभारी प्रधानाध्यापक समेत दो शिक्षकों को सस्पेंड कर दिया है। वहीं, आरोपित अनुदेशक के खिलाफ बड़ी कार्रवाई के संकेत दिये है। उधर शिव जी राजभर के तहरीर पर शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि उच्च प्राथमिक विद्यालय बड़ागांव में पढ़ने वाले कक्षा सात के छात्र अर्जुन राजभर (13) वर्ष पुत्र शिवजी राजभर व अमरजीत राजभर (12) वर्ष पुत्र टुनटुन राजभर को प्रभारी प्रधानाध्यापक श्रीभगवान राम, सहायक अध्यापक वीरेन्द्र कुमार तथा अनुदेशक संतोष कुमार ने बुधवार की सुबह बेरहमी से पीटा। तीनों बच्चों गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन शिक्षकों को रहम नहीं आयी।

बीच बचाव करने आई एक महिला शिक्षक को भी शिक्षकों ने अपशब्द की बौछार कर खदेड़ दिया। शिक्षकों की बेदर्दी से चीखते-चिल्लाते बच्चों की आवाज सुन आस-पास के लोग जुट गये। छात्र को शिक्षक द्वारा बेरहमी से पीटे जाने की निन्दा करते हुए लोगों ने विरोध करना शुरू किया, तब तक बच्चो के परिजन और ग्रामीण पहुंच गये। ग्रामीणों का तेवर देख शिक्षक एक कमरे में कैद हो गये और पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह से बीच बचाव व कारवाई का भरोसा देकर दो शिक्षको को रूम से बाहर निकालकर थाने ले गयी। वहीं सूचना पर पहुंचे खण्ड शिक्षा अधिकारी पवन कुमार सिह ने कुछ शिक्षकों और ग्रामीणों का बयान दर्ज करने के साथ ही दोनों शिक्षकों व अनुदेशक के खिलाफ कार्रवाई की संस्तुति की।खण्ड शिक्षा अधिकारी मनियर की संस्तुति पर बीएसए मनीष कुमार सिंह ने तत्काल प्रभाव से प्रभारी प्रधानाध्यापक श्रीभगवान राम व सहायक अध्यापक वीरेन्द्र कुमार को सस्पेंड कर दिया है। वहीं, अनुदेशक संतोष कुमार पर विभागीय कार्रवाई के संकेत दिये है।

इसे भी पढ़े -   Ballia : यूपी और बिहार तय करेगा देश में किसकी होगी सत्ता : श्रवण कुमार

सीओ ने दिया आवश्क कार्रवाई के निर्देश
छात्र को पीटने के सम्बन्ध में क्षेत्राधिकारी बांसडीह शिव नारायण वैश्य ने बताया कि शिव जी राजभर के सूचना पर मामले को संज्ञान में लेते हुए सुसंगत मुकदमा पंजीकृत कर आवश्यक वैधानिक कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Comment