Ballia : गहने न लाने पर बिगड़ी बात, बिना दुल्हन के वापस लौटा बारात


बांसडीह (बलिया)।
कोतवाली क्षेत्र के मैरिटार में रविवार की रात एक वैवाहिक कार्यक्रम में वर पक्ष द्वारा गुरहथी के दौरान गहने न लाने पर बात बिगड़ने से जहां एक तरफ शादी रुक गयी, वहीं बारात को बिना दुल्हन के वापस लौटना पड़ा। गांव के गुप्तेश्वर शर्मा की लड़की की शादी में नगर क्षेत्र के रामपुर से बारात आई थी। रात को कन्या पक्ष द्वारा बारातियों का स्वागत सत्कार कर द्वार पूजा के बाद जयमाल की रस्म भी पूरी हो गयी। इसके बाद देर रात गुरहथी के लिये पंहुचे वर पक्ष ने जब आंगन में आभूषणों के बिना रस्म पूरी करने का प्रयास किया तो कन्या पक्ष के लोग भड़क गये। गुरहथी में वर पक्ष द्वारा आभूषणों को न लाने के लिये बहाना बनाया जाने लगा। इसके बाद कन्या पक्ष ने सीधे तौर पर विवाह से इंकार कर दिया और दोनों पक्षों में काफी देर की कहासुनी के बाद मामला कोतवाली पंहुचा, लेकिन रात होने के कारण इसमें कुछ नहीं हो सका। इसके बाद सोमवार को एक बार फिर थाने में बाराती व घराती पक्ष के बीच घंटांे पंचायत होती रही, जिसमें कन्या के पिता ने वर पक्ष की किसी भी सफाई को सुनने से इंकार कर दिया। अंततः स्थानीय लोगों की उपस्थिति में दोनों पक्षों ने अपने आपसी खर्चे आदि लेन-देन की वापसी की रूपरेखा तय की और इसके बाद बारात बिना दुल्हन के वापस लौट गयी। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक स्वतंत्र सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों में लेन-देन को लेकर काफी असहमति हो गयी थी, जिसका दोनों पक्षों द्वारा आपस मे पंचायत कर निपटारा किया गया है।

इसे भी पढ़े -   बलिया जिला हुआ कोरोना मुक्त, 4053 लोगों की हुई जांच, संक्रमित....

Leave a Comment