Ballia : हर्षाेल्लास के साथ बलिया में दो दिन मनायी गयी होली, देखेें तस्वीरें

रोशन जायसवाल
बलिया।
वैसे तो बलिया बागियों की धरती है और इस धरती से कोई भी शुभ काम होता है तो पूरे देश में एक सुंदर संदेश जाता है। काशी के बाद भृगु क्षेत्र की होली एक अलग महत्व रखती है, क्योंकि यह धरती महर्षि भृगु की है और गंगा व सरयू की पवित्र स्थली है। जहां एक तरफ मंदिरों में परंपरागत तरीके से मंदिर के पुजारियों ने ढोल नगाढ़ा के साथ फाग गीत गाकर पूरे माहौल को धार्मिक उत्सव को बेहतर कर दिया।

नगर के बाबा बालेश्वर मंदिर में सोमवार और मंगलवार को दोनों दिन गजब की भीड़ रही। सुबह से लेकर शाम तक भक्त भोलेनाथ को अबीर गुलाल लगाते रहे। वहीं भृगु मंदिर में भी होली का पर्व संतों ने मनाया और भृगु बाबा को अबीर गुलाल लगाया। जहां पहले दिन शहर का कुछ हिस्सा छोड़ पूरे जिले में सोमवार को होली मनायी गयी। वहीं मंगलवार को पूरे शहर में होली का पर्व मनाया गया। नवजवान गाजे-बाजे पर फगुवा गीत के साथ जमकर ठुमके लगाते रहे।

हनुमानगंज जीराबस्ती में गजब की होली रही। यहां शहर के व्यापारी विशेष आयोजन में शामिल हुए। यहां पहले अबीर गुलाल लगाया गया उसके बाद फगुवा गीत पर जमकर डांस किया गया। वैसे तो शहर में जगह-जगह पुलिस का पहरा भी रहा। हालांकि पहले और दूसरे दिन भी कन्फ्यूजन में कुछ दुकानें खुली रही, लेकिन होली खेलने वाले जो किसी भी व्यापारी या दुकानदार को तंग नहीं किया और उनसे भी गले लगकर होली की बधाई दी।

शाम के वक्त जगह-जगह होली मिलन का आयोजन हुआ, जिसमें सभी लोग पहुंचकर होली की बधाई दी। जहां चेयरमैन संत कुमार मिठाई लाल ने भृगुआश्रम में होली खेली वहीं नगर विधायक/परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह के जनसंपर्क कार्यालय पर जमकर होली खेली गयी। पत्रकारों ने भी होली का भरपूर आनंद उठाया। छात्रनेता, अधिवक्ता, चिकित्सक, साहित्यकारों की भी होली जबरदस्त रही।

इसे भी पढ़े -   ballia : बी.ए. व बी. एड. उत्तीर्ण छात्र-छात्राओं में स्मार्टफोन का हुआ वितरण

Leave a Comment