Ballia : महाशिवरात्रि पर धूमधाम से निकली भोलेनाथ की बारात


देवी-देवता, वानर-भालू, भूत-पिशाच बने बाराती

रमेश जायसवाल
बलिया।
सिकंदरपुर कस्बे सहित क्षेत्र भर में शिवजी आज दूल्हा बने हैं। देवी पार्वती से विवाह की तैयारी है। गले में नागराज, हाथ में त्रिशूल, माथे पर चांद, शरीर पर भस्म… अद्भुत छटा बिखेर रहा है भोलेनाथ का शृंगार। हनुमानजी, देवी-देवता, वानर-भालू, भूत-पिशाच सब बाराती बनकर नाचते-गाते साथ चल पड़े हैं। पूरा माहौल शिव-पार्वती की भक्ति में लीन है। बच्चे-बजुर्ग, महिलाएं और पुरुष, हर कोई उत्साह से लबरेज है। यह दृश्य है आदर्श नगर पंचायत सिकंदरपुर का। महाशिवरात्रि पर यहां के किला के पोखरा स्थित अवेधनाथ मंदिर से भगवान भोलेनाथ की बारात निकली है। इसमें आकर्षक झांकियां भी हैं। दूसरी ओर, महिलाएं देवी पार्वती को सजा रही हैं। गाजे-बाजे और नाच-गान के साथ बारात आसपास के इलाकों से होती हुए फिर से मंदिर में पहुंचती है। वहां उसका जोरदार स्वागत-सत्कार होता है। रात में शुभ बेला में पारंपरिक गीतों के बीच भोलेनाथ और पार्वती का विवाह संपन्न कराया जाता है।


शाम पांच बजे निकला बारात
चतुर्भुज नाथ मंदिर, किला के पोखरा स्थित भोले नाथ का परिसर दोपहर 01 बजे से ही खचाखच भर गया। बारात की तैयारियों में सभी भक्त जुट गए। शिवजी के साथ-साथ बारातियों को तैयार किया जाने लगा। झांकियों की भी तैयारी की जाने लगी। आस-पास के सैकड़ों लोग, बच्चे-बुजुर्ग, महिलाएं-बच्चे और युवा सब मंदिर की ओर चल पड़े। शाम 05 बजे बारात तैयार हो गई। दुल्हा शिव जी, देवी-देवता और भूत पिशाच के साथ गाड़ी पर सवार हो गए। ढोल-ताशा और गाजे-बाजे की बीच शिव जी की बारात 05ः05 बजे मंदिर परिसर से निकली। आगे-आगे झांकियां, उसके पीछे महिला बाराती, फिर पुरुष और बच्चे। सब नाचते-झूमते बढ़ रहे हैं।

इसे भी पढ़े -   Ballia : ईद को लेकर डीएम-एसपी ने प्रमुख मस्जिदों का लिया जायजा


क्षेत्र के सभी मंदिरों में बाबा का अभिषेक करने उमड़े श्रद्धालु
महाशिवरात्रि पर क्षेत्र के सभी मंदिरों में शिवभक्तों का हुजूम उमड़ पड़ा। सुबह से ही पूजा-अर्चना शुरू हो गई। भक्तों ने फूल-बेलपत्र आदि से पूजा-अर्चना कर मनोवांछित फल की कामना की। भगवान शिव का दूध, दही, घी, शक्कर और गंगा जल आदि से रुद्राभिषेक किया गया और फिर चंदन, कुमकुम, भष्म, भांग और फूल आदि से उनका अलौकिक श्रृंगार किया गया।


शिवमय हो गया पूरा इलाका
शिव बारात से पूरा शहर शिवमय हो गया है। नाचते-गाते बारात किला के पोखरा स्थित भोलेनाथ मंदिर से निकलकर जलालीपुर, पुलिस चौकी रोड होते हुए शहर के विभिन्न स्थानों में नगर भ्रमण की। बारात जलपा स्थान, भिखपुरा, गंधी, दोमनपुरा, चतुर्भज नाथ मंदिर, पुरानी पानी टंकी, नगरा मोड़, हॉस्पिटल मोड़, सोनार गली, बस स्टैंड होते हुए बारात मंदिर प्रांगण पहुंची, जहां बारातियों का स्वागत किया गया।


हजारों भक्तों ने ग्रहण किया प्रसाद
शिव-पार्वती के विवाह समारोह पर मंदिर परिसर में महाभंडारा का आयोजन किया गया। हजारों महिला-पुरुष व बच्चों ने भगवान के प्रसाद ग्रहण किया। मंदिर कमेटी की ओर से लोगों को पूड़ी, बुनिया, सब्जी आदि खिलाए गए। देर रात तक भंडारा चलता रहा।
चप्पे चप्पे पर रही पुलिस की मुस्तैदी
भोलेनाथ की शादी का बारात जैसे निकली बारात में शामिल बारातियों की सुरक्षा की जिमेदारी पुलिस पुलिस प्रशासन अपने कंधों पर उपजिलाधिकारी सिकंदरपुर रवि कुमार, क्षेत्राधिकारी आशीष कुमार मिश्रा, थानाध्यक्ष दिनेश पाठक, चौकी इंचार्ज रवींद्र कुमार पटेल के भरोसे अपने कंधों पर ले रखी थी। बारातियों के सुरक्षा में सैकड़ों पुलिस कर्मियों के साथ-साथ दर्जनों सब इंस्पेक्टर व पीएसी के जवान मुस्तैद रहे।

इसे भी पढ़े -   सबको पीछे छोड़ बलिया निकला आगे, सीएम ने की सराहना

Leave a Comment