Ballia : चोरी करने जा रहे चार शातिर चोर गिरफ्तार, खुले कई राज

चोरी के पैसे से हथियार खरीदकर हत्या की घटना को देने वाले थे अंजाम
बलिया।
एसओजी व सुखपुरा थाना पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा चोरी करने जा रहे चार चोरों को गिरफ्तार किया है। चोरों के पास से पुलिस ने चार तमंचा और आठ जिंदा कारतूस के साथ लोहे की राड, पिलास आदि बरामद किया है। पुलिस ने चोरों के खिलाफ सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर न्यायालय चालान कर दिया।
जानकारी के अनुसार शनिवार को एसओजी टीम व सुखपुरा थाना पुलिस को मुखबिर ने सूचना दी कि कुछ संदिग्ध चोरी करने जा रहे है। पुिलस से तत्परता दिखाते हुए सुखपुरा क्षेत्र के आसन नकहरा मार्ग के पास से चार चोरों को धर दबोचा। पूछताछ में चोरों ने अपना नाम सतीश सैनी पुत्र मुन्ना ग्राम गोठौली थाना बांसडीहरोड, रुदल नट पुत्र तुफानी निवासी नकहरा थाना गढ़वार, प्रदीप उर्फ गोलू राम पुत्र परमहंस निवासी पहेसर थाना पकड़ी और रवि चौरसिया पुत्र राजेश निवासी जिराबस्ती थाना सुखपुरा बताया। तलाशी के दौरान चोरों के पास से चोरी करने वाले उपकरण के साथ चार तमंचा और आठ जिंदा कारतूस बरामद किया गया।
पकड़े गए चोरों ने बताया कि हम लोग हमेशा एक साथ नहीं रहते हैं जब कोई घटना करनी होती है तो एक दूसरे से मोबाइल से बात करके इकट्ठा हो जाते हैं और घटना के बाद फिर अलग-अलग चले जाते हैं। नवम्बर महिने मे 09 तारीख को जीराबबस्ती मे बंधन बैंक के कर्मचारी से 1,35000 हजार नगद, ममता शर्मा निवासी जीराबस्ती के सहयोग से अपने साथी सचिन रावत, मनोज यादव तथा अफरोज उर्फ कल्लू को बुलाकर घटना को अंजाम दिया था। घटना के पश्चात हम लोग गाजीपुर चले गए थे तथा वहां पर उक्त रुपये आपस में बाट लिए। अभियुक्त सतीश सैनी ने बताया कि मैं और रवि ज्यादातर एक साथ ही रहते हैं। साहब मेरी बहन की शादी पैसे के अभाव में टूट गई तथा मेरे ऊपर तेरह मुकदमे भी है जिसमें काफी जमानतदारों को पैसा देना है इसलिए हम सोचे कि बड़ी घटनाएं करके पैसा कमा लें। इसके अलावा साहब मेरा दोस्त सचिन रावत जो वाराणसी का रहने वाला है जिसको में उसके मोबाइल पर कॉल किया था तो वह बोला कि भलुई में मुन्ना राजभर की हत्या करनी है तुम पिस्टल खरीद लो और 02-03 लोगो को तैयार कर लो मैं भी आकर मिलकर काम कर लिया जाय, इसमें काफी पैसा मिलेगा तो मैं राजी हो गया। आज की यह चोरी करने के बाद मिलने वाले हिस्से से 02 पिस्टल हम लोग खरीदते और सभी योजनाबद्ध लूट और भलुही वाली हत्या करते।

चोरों ने खोला कभी न खुलने वाले राज
पुलिस के पूछने पर कि तुम लोग ऐसी कौन सी घटना किए हो जिसमें जेल नहीं गए हो तो सतीश सैनी ने बताया कि साहब मनोहर यादव पुत्र लखन सिंह यादव निवासी खावपुर सपही थाना कोतवाली गाजीपुर का रहने वाला है हम लोगो का मित्र है जो बनारस में पाण्डेयपुर चौराहा के पास किराये के कमरे में रहता है। मनोहर यादव से हम लोगो की मुलाकात अफरोज उर्फ कल्लू के घर गाजीपुर में हुआ था जहा पर आदित्य यादव उर्फ मनोज यादव पुत्र बाबू लाल यादव निवासी कटघरवा थाना सिकारपुर पश्चिम चम्पारण बिहार, सचिन रावत उर्फ बीरेन्द्र जो जौनपुर का रहने वाला है भी मौजूद थे। वही पर मनोहर यादव के बताने पर 5 दिसंबर 2023 को हम लोगांे ने बनारस के गोयिठहां मे गुटखा की फैक्ट्री में लूट की योजना बनाये थे लेकिन घटना में सफलता नही मिली तो मैं अपने दोस्त सचिन के साथ जौनपुर चला आया और उसी समय में और सचिन मनोहर को बोल दिये थे कि हम लोगो का कही भी किसी से नाम मत लेना नही तो अंजाम बुरा होगा।

Leave a Comment