Ads

1 / 3
Caption Text
2 / 3
Caption Two
3 / 3
Caption Three
3 / 3
Caption Three

पूर्वांचल के कई नेता हाथी की सवारी के लिये है तैयार

चर्चा, बसपा सांसद भाजपा व कांग्रेस में हो सकते है शामिल
बलिया।
यदि बसपा एनडीए या इंडिया गठबंधन के साथ नहीं गयी तो यह तय है कि बसपा अपने दम पर चुनाव लड़ेंगी। क्योंकि बसपा सुप्रीमो मायावती का बयान यह आ रहा है कि वह अकेले चुनाव लड़ेंगी। इसके पहले कयास यह लगाया जा रहा था कि बसपा इंडिया गठबंधन के साथ जा सकती है। लेकिन ऐसा दूर-दूर तक फिलहाल नहीं दिखायी दे रहा है। क्योंकि सपा ने कांग्रेस को 17 सीटें देकर 63 सीटों पर चुनाव लड़ने का मन बना चुकी है। वहीं बसपा यूपी के 80 सीटों पर चुनाव लड़ने का दावा कर रही है।

इधर पूर्वांचल के कई ताकतवर नेता अपना राजनीतिक भविष्य बसपा से जोड़कर चल रहे हैं। ऐसा इसलिये कि यदि उनकी बात एनडीए या इंडिया गठबंधन के बड़े नेताओं से नहीं बनी तो और वह टिकट के दौड़ से बाहर चले गये तो वह बसपा से भी चुनाव लड़ सकते है। वैसे चर्चा सलेमपुर, जौनपुर, आजमगढ़, घोसी, गाजीपुर सहित अन्य जिलों में इसकी चर्चाएं चल रही है। बसपा 2019 में सपा के साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ी थी। उसमें बसपा को 10 सीटें मिली थी। इसके कुछ ही माह बाद बसपा सपा से अलग हो गयी। अब 2024 में बसपा सपा के साथ नहीं बल्कि अपने दम पर चुनाव लड़ने का दावा कर रही है। पूर्वांचल का सबसे बड़ा ताकतवर चेहरा विधायक उमाशंकर सिंह के भी लोकसभा लड़ने की चर्चा है। वह किस संसदीय क्षेत्र से लड़ेंगे यह बताना जल्दबाजी होगा। यदि उनको बसपा सुप्रीमो का आदेश मिला तो वह चुनाव मैदान में होंगे।

बसपा सांसद रितेश पांडेय हो सकते है भाजपा में शामिल
यूपी के सांसद रितेश पांडेय बसपा को छोड़कर भाजपा में शामिल हो सकते है। पिछले कई दिनों से बसपा सांसद भाजपा के शीर्ष नेताओं से मिलते हुए नजर आ रहे है। संभावना जतायी जा रही है कि वह बहुत जल्द भाजपा में आएंगें। वहीं दूसरी तरफ आजमगढ़ जिले के लालगंज लोकसभा की बसपा सांसद संगीता आजाद भी भाजपा में जा सकती है। उधर अमरोहा के बसपा सांसद दानिश अली की कांग्रेस में जाने की चर्चा है।

बलिया से रोशन जायसवाल की एक रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *