Ballia : बे मौसम की बरसात से किसानों के माथे पर खींची चिंता की लकीरें


बैरिया (बलिया)।
एकाएक बदले मौसम के मिजाज के कारण रविवार की रात से रुक-रुक कर हो रही बे मौसम की बरसात से किसान के माथे पर चिन्ता की लकीरे खिंच गयी है। फसलांे में फूल फल लेने के समय बरसात से उत्पादन वर्ष में उत्पादन कम होने की आशंका प्रबल हो गयी है। सिर्फ गेहूं को छोड़कर बाकी अन्य फसलों को नुकसान पहुंचा है। क्षेत्र के किसानों का कहना है कि इस बे मौसम की बरसात से दलहनी और तेलहनी फसलों के अलावा सब्जियों की खेती को भी भारी नुकसान पहुंचा है। जबकि गेहूं के फसल के लिए यह बारिश लाभदायक है। किसानों का कहना है कि सरसों, अरहर, मसूर, मटर, चना की फसलों को इस बरसात ने काफी नुकसान पहुंचा है। जबकि सब्जी की खेती करने वाले किसानों का कहना है कि टमाटर, बैगन, हरी मिर्च व बींस की फसल को नुकसान पहुंचा है। खेतों में बोए गए परवल की फसल को इस बारिश से लाभ पहुंचाने की बात बताई जा रही है।

Leave a Comment