भाजपा और सपा में होगी सीधी लड़ाई, बसपा उपचुनाव से है बाहर

रोशन जायसवाल,
बलिया। घोसी विधानसभा उपचुनाव 5 सितंबर को है। आठ सितंबर को परिणाम आएंगे। भारतीय जनता पार्टी भाजपा प्रत्याशी दारा सिंह चौहान के लिये पूरी ताकत के साथ लगी है। भाजपा नेतृत्व ने परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह को बड़ी जिम्मेदारी दी है। उस जिम्मेदारी को गंभीरता से लेते हुए दयाशंकर सिंह घोसी में डेरा डाले हुए है।

उनका दावा है कि 2017 भी हम जीते थे और 2022 भी जीतेंगे। हर गली और हर मुहल्ले में दयाशंकर सिंह जनसंपर्क के माध्यम से मतदाताओं से सीधे जुड़ रहे है। मंगलवार को जहां एक तरफ सपा प्रत्याशी सुधाकर सिंह को जीताने के लिये सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कोपागंज में चुनावी जनसभा कर रहे थे वहीं दूसरी तरफ परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह विधानसभा के गांवों में जनसंपर्क कर रहे थे। मंगलवार को विशेष तौर पर यह देखा

गया कि सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर राज्यमंत्री दानिश आजाद अंसारी, सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त, क्षेत्रीय अध्यक्ष सहजानंद राय जनसंपर्क में थे। दो सितंबर को भाजपा प्रत्याशी दारा सिंह चौहान को जिताने के लिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चीनी मिल के मैदान में आ रहे है। इस बार के उपचुनाव में बसपा मैदान से बाहर है।

ऐसे में बसपा के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि बसपा के कार्यकर्ताओं को विकल्प के रूप मंें जो भी उन्हें बेहतर लगे वहां पर वह मतदान करेंगे। पिछले 2022 के चुनाव में बसपा लगभग 54 हजार वोट पायी थी। ऐसे में सवाल यह उठ रहा है कि उपचुनाव में बसपा का वोट किसके पक्ष में होगा। इन दिनों घोसी उपचुनाव पर सपा और भाजपा की पूरी निगाह बनी हुई है। जहां एक तरफ सपा भाजपा पर निशाना साधते हुए यह कह रही है कि इस उपचुनाव में पूरी सरकार लगी हुई है। वहीं भाजपा का यह कहना है कि सपा बेचैन है, यह उसे पता है कि सपा हार रही है। इसलिये इस तरह की बयानबाजी हो रही है।

इसे भी पढ़े -   Ballia : खाकी बाबा मंदिर के पास नगरा पुलिस को मिली सफलता

इनसेट
सपा व भाजपा का दावा, हम जीत रहे चुनाव
राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय यह भी है कि सपा प्रत्याशी सुधाकर सिंह चुनाव मैदान में दम खम के साथ जमे हुए है। वहीं भाजपा प्रत्याशी के साथ पूरी सरकार खड़ी है। आने वाले चुनाव में घोसी से कौन विधायक होगा यह तो चुनाव परिणाम आने के बाद ही पता चलेगा। लेकिन दोनों दलों के नेताओं का यह दावा है कि हम चुनाव जीत रहे है।

इनसेट
आखिर बसपा है किसके साथ
विधानसभा चुनाव 2022 में बसपा तीसरे नंबर पर थी। पहले पर सपा और दूसरे भाजपा और तीसरे पर बसपा थी। ऐसे में बसपा उपचुनाव से बाहर है। राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा है कि बसपा आखिर किसके साथ होगी। उसके वोटर यदि वोट करेंगे तो किसको करेंगे। वैसे विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता बसपा के वोटरों पर अपनी निगाह रखे हुए है। अब देखना यह होगा कि बसपा का वोट लेने में कौन सफल होता है।

Leave a Comment